Saturday, July 6, 2019

स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की होगी भर्ती, 9 दिसंबर से मिलेगा नियुक्ति पत्र



पटना. 71 हजार स्कूलों में एक लाख से अधिक प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली के लिए तारीख तय कर दी गई है। पंचायत व प्रखंड सहित विभिन्न प्रारंभिक नियोजन इकाइयों के माध्यम से बहाली की प्रकिया 25 जुलाई से शुरू होगी। बीएड-डीएलएड के साथ टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों से आवेदन 26 अगस्त से 25 सितंबर तक लिया जाएगा। चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र 9 से 13 दिसंबर तक मिलेगा। लगभग ढाई साल बाद प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो रही है। 

शिक्षा विभाग ने  शुक्रवार को नियोजन का शिड्यूल जारी कर दिया। नियोजन में 2012 और 2017 में टीईटी उत्तीर्ण 1,11,484 अभ्यर्थियों को मौका मिलेगा। शिक्षा विभाग ने 2012 में टीईटी उत्तीर्ण 65,984 अभ्यर्थियों की वैद्यता 14 मई 2021 तक बढ़ा दी है। नियोजन के लिए शिक्षकाें के पदों की गणना प्राथमिक कक्षाओं वर्ग एक से पांच और उच्च प्राथमिक कक्षाअाें में 6 से 8 तक के लिए होगी। समान काम समान वेतन मामले पर सु्प्रीम कोर्ट का फैसला सरकार के पक्ष में आने के बाद शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया शुरू की गई है। प्रारंभिक स्कूलों के लिए पंचायत शिक्षक, प्रखंड शिक्षक, नगर पंचायत, नगर परिषद व नगर निगम शिक्षक की बहाली होती है।
मेधा सूची का अंतिम प्रकाशन 29 नवंबर को होगा
 20 अगस्त : बहाली का विज्ञापन आएगा।
26 अगस्त से 25 सितंबर तक आवेदन दे सकेंगे।
11 अक्टूबर तक मेधा सूची तैयार की जाएगी। 
17 अक्टूबर: सूची को नियोजन समिति की मंजूरी। 
21 अक्टूबर काे मेधा सूची का प्रकाशन। 
22 अक्टूबर से 5 नवंबर तक सूची पर आपत्ति दे सकेंगे। 11 नवंबर काे आपत्ति का निराकरण।
14 नवंबर : आपत्ति के बाद सूची का प्रकाशन।
25 नवंबर को जिला द्वारा पंचायत और प्रखंड नियोजन इकाई की मेधा सूची को मंजूरी। 
29 नवंबर: मेधा सूची का अंतिम प्रकाशन। 
30 नवंबर से 7 दिसंबर : आवेदन के साथ संलग्न स्व अभिप्रमाणित प्रमाण पत्रों का मूल प्रमाण पत्र से मिलान और चयन सूची का निर्माण।
9 से 13 दिसंबर: बंटेगा नियोजन पत्र
महिलाओं काे 50 % और गरीब सवर्णों को मिलेगा 10% आरक्षण
महिला अभ्यर्थियों को 50 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 10 प्रतिशत, दिव्यांजनों को 4 प्रतिशत और स्वतंत्रता सेनानी के पोता, पोती, नाती व नतिनी को 2 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। एससीएसटी, पिछड़ा व अति पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों को सरकार के नियमानुसार आरक्षण मिलेगा।
नियोजन इकाइयों में हाथों-हाथ जमा करें या डाक से भेजंे आवेदन
नियोजन इकाई में आवेदन निर्धारित तिथि तक हाथों-हाथ एवं डाक या स्पीड पोस्ट द्वारा भेजे जा सकते हैं। पहले से नियोजित शिक्षक जो शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण हैं और दाेबारा नियोजन के लिए आवेदन देना चाह रहे हैं, उन्हें निर्धारित पदाधिकारी से अावेदन काे अग्रसारित कराना होगा। 
30 छात्रों पर 1 शिक्षक जरूरी, अभी हैं 50 पर 1
शिक्षा का अधिकार कानून 2009 के तहत 30 छात्रों पर एक शिक्षक होना चाहिए। अभी राज्य में 50 छात्र पर एक शिक्षक हैं। राज्य में अभी प्राथमिक से लेकर माध्यमिक तक 4.40 लाख शिक्षक है। प्राथमिक स्कूलों में 3.19 लाख नियोजित और 70 हजार पुराने हैं। 

0 comments:

Post a Comment