Saturday, July 6, 2019

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पहुंचे तेजस्वी, कहा- बजट में बिहार के साथ धोखा हुआ


राजद नेता तेजस्वी यादव शनिवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने बजट में बिहार के साथ धोखा किए जाने की बात कही। 
तेजस्वी ने कहा कि बिहार से एनडीए को इतना बड़ा मैंडेट मिला था, लेकिन बजट में बिहार के साथ धोखा हुआ। बिहार को किनारे कर दिया गया। बिहार के लोगों को उम्मीद थी कि बजट में कुछ खास होगा, लेकिन ऐसा कुछ न हुआ। 
होटल मौर्या में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में राबड़ी देवी और मीसा भारती भी पहुंची हैं। बैठक में लोकसभा चुनाव में मिली हार और आगामी चुनौतियों पर चर्चा होगी।
स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में नहीं गए थे तेजस्वी
शुक्रवार को राजद का 23वां स्थापना दिवस था। इस अवसर पर पार्टी की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राबड़ी देवी और तेज प्रताप यादव तो आए, लेकिन तेजस्वी शामिल नहीं हुए। इसके चलते पार्टी के अंदर ही तेजस्वी का विरोध हुआ। रघुवंश प्रसाद सिंह और शिवानंद तिवारी ने तेजस्वी पर निशाना साधा। 
शिवानंद ने साधा था निशाना
शिवानंद तिवारी ने राजनीतिक गतिविधियों से तेजस्वी के गायब रहने पर आड़े हाथों लिया। कहा- तेजस्वी सामने आईये। लड़ना होगा। सामाजिक न्याय और सेक्युलरिज्म से ऊपर उठना होगा। 'बालाकोट' से पूरे देश का नैरेटिव बदल गया। भाजपा को वोट मिला, यह स्वीकारना होगा। सामाजिक न्याय का लाभ यादव, कुर्मी, कोईरी और वैश्य को ही मिला है। नीचे के जातियों तक नहीं पहुंच पाया। अब उनके लिए काम करना होगा। तेजस्वी को लाठी खानी होगी, जेल जाना होगा। शेर का बेटा मांद में क्यों बैठा है। 80 विधायकों के नेता हैं। पिता लालू तकलीफ में हैं। उनको तनाव मुक्त करिए। 
रघुवंश ने कसा था तंज
रघुवंश ने कहा- हमने चुनाव के पहले कहा था- इस बार बैकवर्ड-फाॅरवर्ड नहीं चलेगा। वही हुआ। हिन्दू-मुस्लिम के काट में बैकवर्ड-फाॅरवर्ड फेल हो गया। ईवीएम में कोई गड़बड़ी नहीं है। राजद का बेस वोट रह गया, सपोर्टिंग और फ्लोटिंग वोट भाग गया। भाजपा लोगों को यह समझाने में सफल हो गई कि उनका नेता नरेन्द्र मोदी देश में पिछड़ों का सबसे बड़ा नेता है।

0 comments:

Post a Comment